LAC पर तनाव: हाई अलर्ट पर नौसेना, समुद्री सीमाओं पर तैनात किए गए युद्धपोत

लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर तनाव के माहौल को देखते हुए नौसेना के पश्चिमी बेडे़ को भी तैनात कर दिया गया है. युद्धपोत, वाहक जहाज और सभी युद्धक जहाजों को नौसेना की सीमाओं के लिए रवाना कर दिया गया है. चीन के लिए सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण अरब सागर पर भारतीय नौसेना ने अपनी पैनी नजर बना ली है.

गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सेना के बीच सोमवार रात हुई हिंसक झड़पों के बाद से दोनों देशों के बीच माहौल में तल्खी आ गई है. भारतीय थलसेना ने ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए सेना को तैयार करना शुरू कर दिया है. आईटीबीपी के जवानों को 40 एडवांस सीमा पोस्टों पर तैनात कर दिया गया है

गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सेना के बीच सोमवार रात हुई हिंसक झड़पों के बाद से दोनों देशों के बीच माहौल में तल्खी आ गई है. भारतीय थलसेना ने ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए सेना को तैयार करना शुरू कर दिया है. आईटीबीपी के जवानों को 40 एडवांस सीमा पोस्टों पर तैनात कर दिया गया है.

इसके अलावा पूर्वी कमांड को तैयार रहने के निर्देश भी दे दिए गए हैं. अरब सागर में भारतीय नौसेना का पश्चिमी बेड़ा पुख्ता पहरेदारी के साथ तैनात कर दिया गया है. पश्चिमी बेड़े को जरूरत पड़ने पर पूर्वी कमांड के साथ सहयोग करने के निर्देश दिए गए हैं.

बता दें कि चीन के कई माल वाहक जहाज अरब सागर के जरिए आवागमन करते हैं. पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट का भी इस्तेमाल करते हैं लिहाजा सामरिक दृष्टि से पश्चिमी कमांड के लिए महत्वपूर्ण इस रूट पर भारतीय नौसेना ने ऑरेंज अलर्ट की गंभीरता को देखते अपने युद्धपोत वाहक जहाज विक्रमादित्य को एडवांस इलाके में तैनात कर दिया है.

मुंबई के बंदरगाहों पर रहने वाले युद्धक जहाजों को भारतीय समुद्री सीमा में तैनात कर दिया गया है. ‌सूत्रों के मुताबिक युद्धक जहाजों को तीन अलग-अलग चक्र में भारतीय सीमा पर तैनात किया गया है.

Posts Tagged with…

Write a Comment