सीमा पार भारतीय सेना ने मचाई तबाही

भारतीय चौकियों को निशाना बनाकर एक आक्रमण किया गया और उस आक्रमण में बहुत ज्यादा गोलीबारी भी हुई, उस आक्रमण से पाकिस्तान को भारी नुकसान भी उठाना पड़ा है, और ये सब गोलीबारी मंजाकोट सेक्टर में ही हुई है। अब हालात ये हैं, कि वो पूरा मंजाकोट सेक्टर धुआं-धुंआ हो गया है। हमारी भारतीय सेना इतनी भीषण है कि पाकिस्तान की सेना को भारतीय की सेना ने मार दिया है, और वो अब उनकी लाशे भी उठाने के लिए नहीं आई।

मंजाकोट सेक्टर में भारतीय सेना की तरफ से जो आक्रमण हुआ है, ऐसे जवाब की बिल्कुल भी आशंका नहीं थी पाकिस्तान की सेनाओ को। इसलिए अब आईएसआई ने मंजाकोट सेक्टर के पुरे एरिया से आतंकियों की घुसपैठ करवाने के लिए जो आक्रमण हुआ था, पाकिस्तान अब उसका जवाब देने के लिए वो भारतीय चौकियों पर गोलीबारी कर रही थी। भारतीय सेना का एक सैनिक शहीद भी हो गया है, पाकिस्तान की इस गोलाबारी में ही।

उसके बाद भारतीय सेना ने इस का बदला लेने के लिए पाकिस्तान पर ऐसा भीषण प्रहार किया है, कि अब वो लाउडस्पीकर लगाकर माफी मांग रही है, और अब वो भारत से अपने सिपाहियों की लाशें उठाने की भीख भी मांग रही है, और भारतीय सेना के इस हमले से पाकिस्तान को बहुत ज्यादा नुकसान भी हुआ है। पाकिस्तान के दर्जनों के हिसाब से उनके सिपाही घायल भी हो गए है, और काफी सारे मारे भी जा चुके है।

हमारी सीमा पर पाकिस्तान हमेशा से ही ऐसी हरकते करता आया है, इसी तरह की घटना उन्होंने नीलम घाटी में भी की थी। भारत ने फिर उस नीलम घाटी में भी पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए वही किया जो उन्होंने पाकिस्तानी सेनाओ के साथ किया था। इसलिए अब नीलम घाटी में पाकिस्तान एक बार फिर डरा हुआ है, और इस डर के कारण उन्होंने घुटने भी टेक लिए है, और काफी सारी जगहों पर तो उन्होंने सफ़ेद झंडे भी खड़े कर दिए है, और ऐसा करने के बाद उन्होंने माफ़ी भी मांगी थी।

एक तरफ पाकिस्तान की पाकिस्तानी सेना भारत से अपील भी कर रही है तो दूसरी तरफ उड़ी सेक्टर में गोलाबारी भी कर रही है। उड़ी सेक्टर में हमारी सीमा पर अभी भी गोलाबारी जारी है। जिसका हमारी भारतीय सेना उन्हें अच्छे से जवाब दे रही है। स्थानीय लोग बोल रहे है, कि इतने समय बाद इतनी भारी मात्रा में शेलिंग हो रही है।

Write a Comment